माहेश्वरी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एण्ड ऑर्ट्स, प्रताप नगर

माहेश्वरी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एण्ड ऑर्ट्स, प्रताप नगर

माहेश्वरी कॉलेज में स्पोर्ट्स उत्सव का भव्य आयोजन
माहेश्वरी कॉलेज की छात्राओं की प्रतिभा को निखारने हेतु परंपरानुसार इस वर्ष भी तीन दिवसीय खेल-कूद उत्सव का आयोजन कॉलेज के बछेन्द्री पाल क्लब द्वारा किया गया। कॉलेज की सभी छात्राओं ने इस भव्य कार्यक्रम में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। खेलकूद सप्ताह का समापन समारोह कॉलेज प्रांगण में 06 दिसम्बर को सम्पन्न हुआ।
उदघाटन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में समाज सेविका श्रीमती सरोज बियानी उपस्थित रही। साथ ही विशिष्ट अतिथि के रूप में श्रीमती नेहा एवं सीमा फलोड उपस्थित रहीं। समापन समारोह में विशिष्ट अतिथियों में श्रीमती रेनु सारडा, श्रीमती संतोष बजाज, श्रीमती सोनु राठी, श्रीमती नीलम सोढ़ानी उपस्थित रहे। माहेश्वरी छात्रावास के कन्विनर श्री बिठ्ठल माहेश्वरी एवं भवन सचिव श्री महेश चांडक भी इस मौके पर उपस्थित रहे। छात्राओं के उत्सावर्धन हेतु कॉलेज के मानद सचिव श्री राजेश कुमार सोढ़ानी उपस्थित रहे।
स्पोर्ट्स उत्सव के अंर्तगत विभिन्न खेलों का आयोजन किया गया, जिसमें चेस, कैरम, बैडमिंटन, वॉलीबॉल, कबड्डी, क्रिकेट, ऐथलेटिक्स, टेबल टेनिस, सतोलिया, खो-खो आदि खेलों का आयोजन किया गया। खेल सप्ताह के अंतिम चरण में छात्राओं एवं कॉलेज स्टॉफ के लिये फन-गेम्स का आयोजन किया गया एवं सभी विजेताओं को पुरस्कार व प्रमाण-पत्र वितरित किए गए।
सोसायटी के अध्यक्ष श्री सत्यनारायण काबरा ने इस आयोजन के सभी कार्यकर्त्ताओं के प्रयासों की सराहना की। आपने कहा कि खेलों का आयोजन छात्राओं के सर्वांगीण विकास के लिए अवश्य सहायक सि( होगा।
कॉलेज के मानद सचिव श्री राजेश कुमार सोढ़ानी ने सभी प्रतिभागियों को बधाई देते हुए कहा कि शिक्षा-क्षेत्र में भी उपलब्धियाँ खेल में रूचि बढ़ाने से ही संभव हैं क्योंकि खेल जीवन को अनुशासित करता है एवं कई चारित्रिक गुणों का भी विकास करता है।
कॉलेज के भवन सचिव श्री महेश चांडक ने सभी छात्राओं की मेहनत व लगन की सराहना करते हुये कहा कि छात्राओं ने अपनी क्षमता का बहुत अच्छा उदाहरण प्रस्तुत किया है। माहेश्वरी गर्ल्स हॉस्टल के कन्विनर श्री विट्ठल चौधरी ने सभी छात्राओं की खेल भावना की प्रशंसा की एवं कहा कि खेल में भाग लेना ही सबसे बडी जीत है क्योंकि खेल छात्राओं के मानसिक, बौद्धिक एवं शारिरिक शक्तियों का विकास करता है।
माहेश्वरी कॉलेज में संविधान दिवस का आयोजन
माहेश्वरी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एण्ड ऑर्ट्स में 26 नवम्बर को संविधान दिवस का आयोजन किया गया। कॉलेज की सभी छात्राओं को संविधान में प्रदत्त अधिकारों की जानकारी पूर्ण रूप से प्राप्त हो इसी उद्देश्य से ये पहल की गई। इस अवसर पर पंचायत समिति के प्रभारी अधिकारी कॉलेज की छात्राओं को आगामी विधानसभा चुनाव हेतु मतदान से संबंधित जानकारी देने हेतु पधारे। साथ ही संविधान विषय को लेकर वाद-विवाद, निबंध, ग्रुप डिस्कशन आदि का भी आयोजन हुआ।
सोसायटी के अध्यक्ष श्री सत्यनारायण काबरा ने छात्राओं से शत-प्रतिशत मतदान में अपना योगदान देने हेतु आह्वान किया एवं संविधान से मिले सभी मौलिक अधिकारों को पहचानने एवं उनका उपयोग करने हेतु प्रेरित भी किया। महासचिव शिक्षा श्री मधूसूदन बिहाणी ने मतदान के प्रति निष्ठा एवं उसके महत्व को समझाते हुए संविधान से मिले प्रदत्त अधिकारों का सम्मान करने के लिए छात्राओं को प्रेरित किया। आपने कहा कि भारत के उज्जवल भविष्य एवं देश की एकता व अखंडता को बनाएं रखने में युवाओं का बहुत बड़ा योगदान है।
तीन दिवसीय संगीत की कार्यशाला
स्वर-संस्कृति संपन्न
कॉलेज में संगीत में रूचि रखने वाली छात्राओं के लिए प्रगतिशील संगीत शिक्षा के साथ उसके व्यवहारिक दृष्टिकोण को ध्यान में रखते हुए, (विषय सुगम एवं लोकगायन की) तीन दिवसीय कार्यशाला स्वर-संस्कृति आयोजित की गई। कार्यशाला में मुख्य वक्ता के रूप में All India Radio से वरिष्ठ संगीतकार पंडित आलोक भट्ट पधारे। तीन दिवसीय इस कार्यशाला में आपने संगीत के सुगम एवं लोक पक्षों पर विस्तृत चर्चा की। साथ ही All India Radio में युवाओं के लिए विभिन्न अवसरों की भी जानकारी दी। समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में All India Radio के Station Director श्री बी.एल. शर्मा पधारे। कॉलेज की छात्राओं ने पंडित आलोक भट्ट द्वारा सिखाये गये भजन व लोकगीतों की सुमधुर प्रस्तुति दी गई।
कॉलेज के मानद् सचिव श्री राजेश कुमार सोढ़ानी ने संगीत जैसे रचनात्मक विषय में रूझान बढ़ाने हेतु, सभी को प्रेरित करते हुए कहा कि संगीत संवेदनशीलता बढ़ाने के साथ कलात्मकता में भी वृद्धि करता है जिससे अन्य शैक्षणिक विषयों में सहायता अवश्य मिलती है।
कॉलेज में प्रथम सत्र परीक्षा सम्पन्न
माहेश्वरी कॉलेज की सभी वर्ग की छात्राओं के लिए नवम्बर के आखिरी सप्ताह में प्रथम सत्र परीक्षा का आयोजन किया गया जिसे विश्वविद्यालय परीक्षाओं की पूर्व तैयारी के उद्देश्य से आयोजित किया गया। परीक्षाओं में छात्राओं ने अच्छा प्रदर्शन किया एवं मुख्य परीक्षा संबंधित सभी पहलुओं को समझा।